20 views 2 sec 0 Comment

युवक को सेल्फी ने पहुंचाया जेल,पड़ोस की नाबालिग लड़की को भेजा था प्राइवेट पार्ट का फोटो

- February 9, 2022

युवक को सेल्फी ने पहुंचाया जेल,पड़ोस की नाबालिग लड़की को भेजा था प्राइवेट पार्ट का फोटो

रिपोर्ट-आकाश कुमार

दिल्ली में एक युवक को सेल्फी ने जेल पहुंचा दिया। दरअसल उसने प्राइवेट पार्ट की सेल्फी लेकर पड़ोस में रहने वाली नाबालिग दोस्त को भेज दी। मगर वह फोटो लड़की की मां ने देख ली, जिसकी शिकायत पुलिस से की गई। पुलिस ने मामले में आईटी एक्ट और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर करीब 22 साल के आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। मामला द्वारका डिस्ट्रिक्ट का है।

आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया

आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया।जानकारी के मुताबिक 16-17 साल की किशोरी परिवार समेत द्वारका डिस्ट्रिक्ट के एक इलाके में रहती है, जो कि स्टूडेंट है। परिवार में मां व अन्य परिजन हैं। पड़ोस में रहने वाले युवक से उसकी दोस्ती है। आरोप है कि युवक ने लड़की के मोबाइल पर अपने प्राइवेट पार्ट का फोटो भेजा था। यह फोटो जब लड़की की मां ने देखी, तो उन्होंने थाने जाकर पुलिस से इस बारे में सूचना दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर कुछ ही देर में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। मामले में सूत्रों का कहना है फोटो दोनों ओर से एक-दूसरे को भेजी गई थीं। मगर लड़की नाबालिग है इसलिए केवल युवक के खिलाफ एक्शन हुआ है। उसके घरवाले बेल के लिए कोर्ट पहुंचे हैं।

तीन साल तक की हो सकती है सजा

जानकारों का कहना है अगर कोई किसी को गंदे कमेंट और अश्लील फोटो भेजते हैं, तो आईटी कानून के तहत कार्रवाई का प्रावधान है। आईटी एक्ट (सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम इलेक्ट्रानिक संचार माध्यमों) दो या अधिक लोगों के बीच मेसेज, फोटो और आंकड़ों के आदान-प्रदान पर लागू होता है। इस एक्ट के धारा-66ए के तहत झूठे और आपत्तिजनक कमेंट करने पर सजा का प्रावधान है। कंप्यूटर या अन्य संचार माध्यमों से ऐसे संदेश भेजना सख्त मना है। अगर आपकी अनुमति के बिना कोई संदेश या फोटो भेजा जाता है, जिससे किसी को परेशानी, असुविधा, खतरा, अपमान, सांप्रदायिकता और आपराधिक उकसावे की बात आती है, तो इस पर कम से कम तीन साल की सजा और जुर्माने के प्रावधान हैं।