24 views 0 sec 0 Comment

यूक्रेन और रूस में शुरू, यूक्रेन में फंसे बरेली के कई लाल दहशत में परिवार भारतीय दूतावास से संपर्क साधा

- February 24, 2022

यूक्रेन और रूस में शुरू हुआ युद्ध को लेकर बरेली जिले के कई छात्रों में दहशत दिखाई दे रही है फिलहाल वह इस समय अपनी पढ़ाई करने के लिए यूक्रेन गए थे लेकिन यहां पर अचानक स्थितियां बदल गई फिलहाल अब यहां पर फस कर रह गए अपनी जान को बचाते घूम रहे हैं लगातार वहां की पुलिस लोगों को अलग कर रही है साथ ही साथ उन्हें अब सुरक्षित स्थान पर चले जाने का फरमान सुनाया गया है।

यूक्रेन गए भारतीय छात्रों के परिवार को भी चिंता सताने लगी

यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद लोग में दहशत दिखाई दे रहे हैं इसको लेकर अब बरेली जिले के आसपास के क्षेत्रों से यूक्रेन में गए छात्रों के परिवार के लोगों की भी चिंता सताने लगी है परिवार के लोगों ने अब उनकी सलामती को लेकर दुआ की है साथ ही साथ भारतीय दूतावास से भी संपर्क साधा है रूस की सैन्य कार्रवाई से दुनियाभर में चिंता की लकीरें छा गईं। यूक्रेन और रूस की इस जंग का का असर भारत समेत पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है। रूस की ओर से हमले के बाद यूक्रेन में हजारों भारतीय फंस गए हैं। गुरुवार को यूक्रेन की ओर से एयरस्पेस बंद किए जाने के बाद भारतीय विमान भी वापस लौट आया है। इस बीच यूक्रेन के आस पास रह रहे लोगों के लिए भारतीय दूतावास ने वहां रह रहे भारतीय नागरिकों से शांति से रहने और दृढ़ता के साथ स्थिति का सामने करने की अपील की है। इसके साथ-साथ दूतावास ने वहां रह रहे भारतीयों के लिए तीसरी एडवाइजरी भी जारी कर दी है। वहीं यूक्रेन में फंसे बच्चों को लेकर उनके परिवार वालों में चिंता बढ़ती जा रही है।

यूपी के बरेली के आसपास क्षेत्रों के रहने वाले छात्र और छात्राएं

परिवार वाले भी अपने बच्चों को फोन और वीडियो कॉल के जरिए यूक्रेन के हालात की लगातार जानकारी लेने में जुटे हैं। यूपी के बरेली के आसपास क्षेत्रों के रहने वाले छात्र और छात्राएं भी यू कैन में पढ़ाई करने के लिए गए हुए हैं इस बीच अचानक वहां पर युद्ध जैसे हालात हो गए तो वहां पर बड़ी संख्या में मौजूद छात्र और छात्राएं फंस गए हैं फिलहाल हमारे रिपोर्टर से बरेली के शेरगढ़ इलाके के फंसे जावेद खान और आपसे खान ने बात की है उन्होंने कहा है कि वह सुरक्षित है और लेकिन यहां पर हालात काफी खराब है उन्हें अपने बनाना है लेकिन यहां से कोई भी फ्लाइट नहीं मिल रही है इसका आप आना मुमकिन लग रहा है फिलहाल उन्होंने कहा कि उनके परिवार के लोग और उन्होंने खुद भारतीय दूतावास से संपर्क करें और अपने वतन वापसी के लिए गुहार लगाई है वही बरेली शहर की नेहा ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील भी की है उन्होंने कहा है कि हालात यहां के ठीक नहीं है और उन्हें भारत लौट आया जाए लेकिन हालात काफी खराब होते जा रहे हैं यहां हर पल धमाका हो रहा है उनकी रूम में के ऊपर से लड़ाकू विमान जब गरजते हैं तो उनकी धड़कन तेज हो जाती है फिलहाल उन्होंने अपने वतन आने की भी अपील की है तो मरियम ने कहा है यहां स्थिति काफी भयंकर हो चुकी है और उन्हें फ्लाइट नहीं मिल रही है यार लिफ्ट का इंतजाम करके उन्हें वतन वापस बुला लिया जाए हर एक मिनट के अंदर तस्वीर बदल रही है।

फिलहाल हालात काफी खराब वतन वापसी की उम्मीद

शेरगढ़ इलाके के ही रहने वाले आसिफ खान ने जानकारी देते हुए बताया कि वहां पर अलाउंस के जरिए लोगों को अलग किया जा रहा है साथ ही साथ उन्हें बैंकों में छपने की नसीहत दी गई फिलहाल हालात काफी खराब है आसिफ ने आगे रोते हुए कहा है कि उन्हें अपने वतन लौटना है उन्होंने कहा कि उनके साथ तमाम और भी छात्र है जो यहां पर पढ़ाई करने आए लेकिन एकदम अचानक युद्ध जैसे हालात हो गए तो वह यहां पर फस गए अब उन्हें के लिए आदेश दिया गया है। फिलहाल इसी बीच नम आंखों से मुमताज ने भी कहा है कि उन्हें अपने वतन लौटना है और वो यहां पर मुश्किलों का सामना करना पड़ रहे हैं कई घंटों से उन्होंने पानी भी नहीं पिया और खाने को दाना नहीं मुमताज ने आगे कहा है कि वह इस समय अपनी जान बचाने के लिए दौड़ रहे फिलहाल अलाउंस के जरिए उन्हें अलग किया जा रहा है साथ ही साथ यहां पर किसी भी तरह से स्थिति सामान नजर नहीं हो दिखाई दे रही।