16 views 2 sec 0 Comment

कांग्रेस की विचारधारा को हराने की ताकत न तो भाजपा के पास है और न ही आम आदमी पार्टी में – शक्तिसिन्ह गोहिल

- June 4, 2022

कांग्रेस की विचारधारा को हराने की ताकत न तो भाजपा के पास है और न ही आम आदमी पार्टी में – शक्तिसिन्ह गोहिल

पार्टी को मजबूत करने व कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विचार जानने के लिए दिल्ली कांग्रेस ने कंस्टीट्यूशन क्लब एनेक्सी में दो दिवसीय नव संकल्प शिविर शुरू किया, क्योंकि कांग्रेस जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं की राय को अधिक महत्व देती है। – चौ0 अनिल कुमार

रिपोर्ट: जगजीत सिंह

नई दिल्ली, 4 जून, 2022 – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में आज दिल्ली कांग्रेस का दो दिवसीय राज्य स्तर पर नव संकल्प शिविर का आयोजन कंस्टीट्यूशन क्लब में हुआ। कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी और श्री राहुल गांधी द्वारा उदयपुर चिंतन शिविर में विचार विमर्श में सुनिश्चित हुआ कि पार्टी के आम कार्यकर्ताओं को अपने विचार व्यक्त करने का अवसर देने और उनसे सुझाव आमंत्रित करने के लिए, उन्हें पार्टी के निर्णय लेने में शामिल करने के लिए, जिस पर पार्टी कांग्रेस को मजबूत करने के लिए गंभीरता से विचार करेगी।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि शिविर में 300 प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया है। नव संकल्प शिविर में में संगठन को मजबूत बनाने के लिए कार्यकर्ताओं से सीधा सम्पर्क, युवाओं के विकास और महिला सशक्तिकरण, शिक्षा का सकारात्मक प्रसार, रोजगार सृजन, बूथ स्तर तक पार्टी की पहुॅच एवं चुनावी रणनीति और दिल्ली में बदलते राजनीतिक परिदृश्य जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर विस्तार पूर्वक चर्चा हुई।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस की रीढ़ पार्टी कार्यकर्ताओं के विचार जानने के लिए इस चर्चा को जिला स्तर तक आगे बढ़ाया जाएगा, क्योंकि उदयपुर चिंतन शिविर में सभी को आमंत्रित नहीं किया जा सकता था इसलिए दो दिवसीय राज्य स्तरीय नव चिंतन शिविर बुलाया गया है। उन्होंने कहा कि हम उदयपुर के नव संकल्प के नारे भारत जोड़ो को आगे लेकर चलेंगे और कांग्रेस की असली ताकत जमीनी कार्यकर्ता को मबजूत बनाया जायेगा।

श्री शक्तिसिन्ह गोहिल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने महात्मा गांधी जी के मार्गदर्शन में स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ी और कांग्रेस पार्टी स्वतंत्रता की कोख से जन्मी पार्टी है जिसने स्वतंत्रता की लड़ाई के लिए असामनता, भेदभाव, कट्टरता, रुढ़िवादिता, छुआछूत और संर्कीणता को खत्म करके ब्रिटिश हूकूमत से आजादी दिलाई और भारत को स्वतंत्र गणतंत्र का अस्तित्व दिलाया। स्वतंत्रता की लड़ाई में कांग्रेस के सिपाहियों ने बिना किसी पद की लालसा के अपना कर्तव्य निभाया। उन्हांने कहा कि परतंत्र भारत में भी कुछ ऐसे वर्ग के लोग थे जो अंग्रेजों के साथ मिलकर देश को आजादी दिलाने में कांग्रेस पार्टी के खिलाफ काम कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह भारत का दुर्भाग्य है कि वर्तमान उसी वर्ग के लोग केन्द्र की सत्ता पर आसीन है।

श्री शक्तिसिन्ह गोहिल ने कहा कि आजादी के बाद भी न्याय, संघर्ष, त्याग और बलिदान की परम्परा को निभाते हुए कांग्रेस ने 70 वर्षों तक भारत को एकता, अखंडता, प्रगति और उन्नति का रास्ता प्रशस्त किया और जहां भारतीय मूल्यों की रक्षा के लिए महात्मा गांधी, श्रीमती इंदिरा गांधी, श्री राजीव गांधी ने अपने प्राणों को न्यौछावर कर दिया वहीं कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री पद का त्याग करके देश को दुनिया में आर्थिक रुप से सुदृढ बनाने के लिए इकॉनोमिस्ट डा0 मनमोहन सिंह को देश का प्रधानमंत्री बनाया। डा0 मनमोहन सिंह की सुदृढ़ आर्थिक नीतियों के कारण आज भी भारत की गिनती दुनिया में आर्थिक तौर सुदृढ़ देशों में उपर गिनी जाती है।

श्री शक्तिसिन्ह गोहिल ने कहा कि कुछ अन्य राजनीतिक दलों के विपरीत, कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र है, और उदयपुर चिंतन शिविर में, कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को अपने को स्वतंत्र और स्पष्ट तरीके से खुद को व्यक्त करने की अनुमति दी। उन्होंने कहा कि न तो भाजपा और न ही आम आदमी पार्टी में कांग्रेस को हराने की ताकत है, क्योंकि कांग्रेस सिर्फ एक राजनीतिक पार्टी नहीं है, बल्कि एक बड़ा परिवार है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी आउटरिच और चुनावी रणनीति के तहत प्रत्येक जिला कांग्रेस कमेटी में 75 किलोमीटर की यात्रा निकालने का कार्यक्रम तैयार किया जाएगा तथा राजेन्द्र नगर विधानसभा उप चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी रणनीति के तहत आम आदमी पार्टी और भाजपा की विफलताओं को क्षेत्र की जनता के समक्ष उजागर किया जाएगा।

 

नव संकल्प शिविर में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के अलावा अ0भा0क0कमेटी के दिल्ली प्रभारी श्री शक्तिसिन्ह गोहिल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री सुभाष चौपड़ा, पूर्व सांसद श्री रमेश कुमार, दिल्ली के पूर्व मंत्री श्री हारून यूसुफ और डॉ नरेंद्र नाथ,पूर्व विधायक एवं कम्युनिकेशन विभाग के चैयरमेन श्री अनिल भारद्वाज, पूर्व विधायक हरीशंकर गुप्ता, हसन अहमद, विजय लोचव, अमरीश गौतम, मतीन अहमद, अलका लांबा, वीर सिंह धिंगन, प्रदेश उपाध्यक्ष जय किशन, मुदित अग्रवाल, अली मेहंदी और अभिषेक दत्त, एआईसीसी सचिव सीपी मित्तल एवं रोहित चौधरी, दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन, दिल्ली युवा कांग्रेस अध्यक्ष रणविजय लोचव, एडवोकेट सुनील कुमार, प्रदेश कोषाध्यक्ष संदीप गोस्वामी, दिल्ली सेवादल के मुख्य संगठक सुनील कुमार, दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन, दिल्ली युवा कांग्रेस अध्यक्ष रणविजय लोचव, प्रदेश कम्युनिकेशन विभाग के उपाध्यक्ष श्री परवेज आलम और श्री अनुज आत्रेय सहित सभी जिला अध्यक्ष, अ0भा0क0कमेटी के पदाधिकारी, प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य, पूर्व निगम पार्षद, राष्ट्रीय व प्रदेश स्तर पर अग्रिम संगठन युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एन.एस.यू.आई. व सेवादल और सेल एवं विभाग के चैयरमेन और पदाधिकारी, जिला कॉओर्डिनेटर मुख्य तौर शामिल हुए।