4 views 17 sec 0 Comment

कन्याकुमारी से जम्मू कश्मीर तक राहुल गांधी जी के नेतृत्व में 3500 कि.मी. की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत

- 6 September 2022

कन्याकुमारी से जम्मू कश्मीर तक राहुल गांधी जी के नेतृत्व में 3500 कि.मी. की भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत

रिपोर्ट: जगजीत सिंह

नई दिल्ली, 05 सितम्बर, 2022 – अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता एवं मुम्बई रीजनल कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष श्री संजय निरुपम, पूर्व सांसद एवं दिल्ली प्रदेश कंग्रेस कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने आज 7 सितम्बर, 2022 से शुरु होने वाली भारत जोड़ो यात्रा की जानकारी दी और बताया कि बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई के खिलाफ इस दिशा में अगले कदम के तहत इस यात्रा में भारत के सामने मौजूद गंभीर विषयों पर देशवासियों के साथ सीधा संवाद किया जाएगा। कांग्रेस पार्टी 150 दिनों में भारत जोड़ो यात्रा में कन्याकुमारी से कश्मीर तक 3,500 किमी. का रास्ता तय करेंगे और देश भर में लाखों लोगों के साथ बातचीत करेंगे। कमर तोड़ महंगाई को नियंत्रित करने में केन्द्र सरकार की पूर्ण असफलता के खिलाफ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा 4 सितंबर 2022 को दिल्ली में ‘महंगाई पर हल्ला बोल’ सफल रैली की गई थी। रैली में मांग की गई थी कि प्रधानमंत्री मोदी महंगाई पर लगाम लगाकर देश की जनता को राहत देने के लिए तत्काल कार्रवाई करें।

संवाददाता सम्मेलन में श्री संजय निरुपम और चौ0 अनिल कुमार के अलावा कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज, पूर्व मंत्री डा0 नरेन्द्र नाथ, पूर्व विधायक हरी शंकर गुप्ता, प्रदेश उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल, अली मेंहदी, कम्युनिकेशन विभाग के वाईस चेयरमैन श्री परवेज आलम, प्रदेश प्रवक्ता डा0 नरेश कुमार और विक्रम लोहिया मौजूद थे।

संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए श्री संजय निरुपम ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की ज़रूरत बताते हुए कहा कि आज के समय में इस यात्रा की बेहद ही आवश्यकता थी। 2014 में प्रधानमंत्री मोदी ने सभी भारतीयों को समृद्धि का सपना दिखाया था। इसके विपरीत उन्होंने पिछले 8 सालों में महंगाई, बेरोजगारी, सामाजिक तनाव और ध्वस्त होती संस्थाओं का एक भयानक अनुभव दिया है। भारत जोड़ो यात्रा तीन प्रमुख समस्याओं पर केन्द्रित है। इनमें पहली आर्थिक असमानताएं हैं, दूसरी सामाजिक भेदभाव है और तीसरी राजनीतिक तौर पर ज़रूरत से अधिक केंद्रीकरण हैं। इन तीन प्रमुख समस्याओं के खिलाफ सभी भारतीयों को एकजुट करने के लिए यह यात्रा निकाली जा रही है।

श्री संजय निरुपम ने कहा कि आज देश की आर्थिक स्थिति बहुत ख़राब है। अमीर और अमीर हो रहे हैं और गरीब और गरीब हो रहे हैं। आम लोग आसमान छूती महंगाई और बेरोजगारी से परेशान हैं। किसान और खेत मजदूर कर्ज के बोझ तले दबे हुए हैं। 70 सालों में बनी हमारे देश की परिसंपत्तियां भारी नुकसान पर मोदी जी के अरबपति पूंजीपति मित्रों को बेची जा रही हैं।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि ने आज सामाजिक तौर पर हमें जाति, धर्म, भाषा, खान-पान, वेशभूषा के आधार पर बांटा जा रहा है। हर रोज़ देशवासियों को एक-दूसरे से लड़ाने के लिए नए-नए षड्यंत्र रचे जा रहे हैं। लोगों में भय का माहौल है, विशेष तौर पर महिलाओं में असुरक्षा की भावना बढ़ती जा रही है। सत्ताधारी पार्टी द्वारा किया जा रहा यह सामाजिक विभाजन हमारी एकता को कमजोर कर रहा है, जिससे हमारे दुश्मनों को मदद मिलती है। हमें नहीं भूलना चाहिए कि हाल ही के समाचारों के अनुसार मोदी राज में चीन ने लद्दाख में हमारी जमीन के 2,000 वर्ग किमी. के हिस्से पर कब्जा कर लिया है।

 

राजनीतिक रूप से देखें तो आज लोगों की आवाज को दबाया जा रहा है और हमारे संवैधानिक अधिकार कुचले जा रहे हैं। संसद और मीडिया जैसी संस्थाओं में अब हम अपने जीवन की समस्याओं और जरूरतों पर भी चर्चा नहीं कर सकते। एक योजनाबद्ध तरीके से हमारे संविधान को उलटने, हमारी संस्थाओं को ध्वस्त करने, हमारे लोकतंत्र को खोखला करने, हमारी एकता और भाईचारे को समाप्त करने के प्रयास किए जा रहे हैं। लोगों द्वारा चुनी गईं विपक्षी दलों की राज्य सरकारें धन बल और एजेंसियों का दुरुपयोग कर गिराई जा रही हैं। राज्यों की आवाज़ को दबाया जा रहा है; उन्हें केंद्र सरकार की ओर से राज्य के हिस्से पर राजस्व की बकाया रकम समय पर नहीं मिल रही है। दलितों, आदिवासियों, पिछड़े वर्गों को उनके मूल अधिकारों – जल, जंगल और जमीन से वंचित रखा जा रहा है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि हम इन चुनौतियों का सामना केवल एकता से ही कर सकते हैं – एक साथ आकर, एक-दूसरे का हाथ थामकर और साथ रहने का संकल्प लेकर। इसी सोच के अनुसार भारत जोड़ो यात्रा के माध्यम से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस सामाजिक कार्यकर्ताओं, बुद्धिजीवियों, अन्य राजनीतिक दलों और लाखों आम लोगों से संपर्क करेगी और देश की गंभीर चुनौतियों से निपटने के तरीकों पर संवाद शुरू करेगी। हमें इतना ज़ोर से बोलना होगा कि यह बहरी सरकार हमारी आवाज सुन सके। चौ0 अनिल कुमार ने बताया दिल्ली में भारत जोड़ो यात्रा दिन तक 45 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। प्रदेश कांग्रेस ने दिल्ली राज्य से संबधित भारत जोड़ो यात्रा की सभी तैयारियां पूरी कर ली है।

प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के चार मुख्य उद्देश्य हैं। पहला- सभी भारतीयों के बीच एकता कायम करना जो महात्मा गांधी के नेतृत्व वाले हमारे स्वतंत्रता आंदोलन और संविधान में प्रतिबिंबित मूल्यों में विश्वास रखते हैं। दूसरा, आर्थिक विषमताओं, सामाजिक विभाजन और अत्यधिक राजनीतिक केंद्रीकरण से बुरी तरह प्रभावित करोड़ों भारतीयों की आवाज़ उठाना। तीसरा, वर्तमान स्थिति के संदर्भ में लोगों के साथ मुद्दों और उनके संभावित समाधानों पर चर्चा करना। चौथा, ‘अनेकता में एकता’ और ‘सर्व धर्म समभाव’ के सिद्धांतों के अनुरूप सामाजिक समरसता को मजबूत करना।

श्री संजय निरुपम ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के मार्ग का संक्षिप्त ब्यौरा देते हुए बताया किः

● यात्रा 7 सितंबर को कन्याकुमारी से शुरू हो रही है, और जम्मू कश्मीर तक चलेगी।

● यात्रा 12 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी – तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर।
● 3,500 किमी से अधिक की यह यात्रा लगभग 150 दिनों में पूरी होगी।

‘भारत जोड़ो यात्रा’ – अब तक की गई तैयारियां:

● यात्रीः देश भर से ऐसे 118 भारत यात्रियों का चयन किया गया है जो कन्याकुमारी से कश्मीर तक चलेंगे। इसके अतिरिक्त प्रदेश कांग्रेस समितियां उन राज्यों से जहां से यात्रा गुजरेगी… 100 प्रदेश यात्रियों और अन्य राज्यों से अतिथि यात्रियों का चयन कर रही हैं।

● कार्यक्रमः यात्रा का विस्तृत कार्यक्रम तैयार किया जा रहा है। हम अपनी वेबसाइट www.bharatjodoyatra.in पर नियमित रूप से यात्रा के मार्ग और सार्वजनिक कार्यक्रमों के बारे में कम से कम तीन दिन पहले अवगत करने का प्रयास करेंगे।

● संचालनः यात्रियों के खाने-पीने और ठहरने की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। मूल यात्री कंटेनरों में ठहरेंगे और प्रदेश यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था प्रदेश कांग्रेस समितियां करेंगी।
● राज्य स्तर पर भारत जोड़ो यात्राः ऐसे हर राज्य में जहां से भारत जोड़ो यात्रा नहीं गुज़र रही है, वहां यात्रा का संदेश पहुंचाने के लिए घर-घर जाकर अभियान चलाया जाएगा।

 

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में सहभागिता का ब्यौरा।

सभी राज्यों, समुदायों, धर्मों, पेशों के लोग यात्रा में भाग लेंगे, जिससे हमारे देश की अनेकता
में एकता और विविधता का प्रदर्शन होगा।

● यात्रा में हर वक्त 300 मूल यात्री होंगे। सुबह की अवधि में पार्टी की ओर से भीड़ इकट्ठा नहीं की जाएगी। दिन के दूसरे भाग में हज़ारों अन्य लोग यात्रा में साथ चलेंगे।

● यात्रा में शामिल होने के लिए सब का स्वागत है – यात्रा में भाग लेने के लिए कृपया हमारी वेबसाइट www.bharatjodoyatra.in पर पंजीकरण करवाएं – लगभग 40,000 से ज्यादा लोग पहले ही पंजीकरण करवा चुके हैं।

● हम एक विस्तृत कार्यक्रम तैयार कर रहे हैं जिसके माध्यम से जो लोग चाहें, वे भारत जोड़ो यात्रा के साथ चलकर, राज्य-स्तर की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होकर या ऑनलाइन भाग लेकर इससे जुड़ सकते हैं।

‘भारत जोड़ो यात्रा’ – 7 और 8 सितंबर के कार्यक्रम

तमिलनाडु में कार्यक्रम इस तरह रहेगाः

● सुबह करीब 7 बजे श्रीपेरुंबुदूर में श्री राहुल गांधी पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी के स्मारक पर उन्हें श्रद्धांजलि देंगे।

● दोपहर 3 बजे से 4 बजे के बीच श्री राहुल गांधी तिरुवल्लुवर स्मारक, विवेकानंद स्मारक और कामराज स्मारक पर जाकर श्रद्धांजलि देंगे।

● 4 बजे के क़रीब महात्मा गांधी मंडपम पर एक प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद वहां राष्ट्रीय ध्वज हस्तांतरण का कार्यक्रम होगा।

● इसके बाद श्री राहुल गांधी और भारत जोड़ो यात्री महात्मा गांधी मंडपम से बीच रोड तक मार्च करेंगे।

● शाम 5 बजे से 6.30 बजे के बीच भारत जोड़ो यात्रा की औपचारिक शुरुआत के लिए बीच रोड पर एक जनसभा का आयोजन होगा।

● 8 सितंबर को सुबह 7 बजे कन्याकुमारी के अगस्तीस्वरम में विवेकानंद इंस्टीट्यूट ऑफ पॉलिटेक्निक के मैदान से पदयात्रा प्रारंभ होगी। तमिलनाडु और पूरे देश से कांग्रेस नेताओं के साथ-साथ कुछ अन्य राजनीतिक दलों और सामाजिक संगठनों के लोग भी इसमें शामिल होंगे।

दूसरे सभी राज्यों में:

● ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की एक साथ शुरुआत के लिए 7 सितंबर को शाम 5 बजे राज्यों की राजधानियों, ज़िला और ब्लॉक मुख्यालयों में कार्यक्रम किए जाएंगे।
● 8 सितंबर को राज्यों की राजधानियों और अन्य प्रमुख शहरों से पदयात्राएं निकाली जाएंगी।
‘भारत जोड़ो यात्रा’-प्रतिदिन यात्रा का यह कार्यक्रम रहने की संभावना हैः

● सुबह 7 बजे प्रार्थना के साथ शुरुआत, 15 किमी का रास्ता तय किया जाएगा।

● दोपहर 4 बजे तक भोजन और आराम, इस दौरान कुछ लोगों से मिलना-जुलना और संवाद भी होगा।

● शाम को 10 किमी. की दूरी तय की जाएगी।

● शाम 7-7.30 बजे यात्रा समाप्त होगी।

● दिन के अंत में यात्रा चौपाल में कार्यक्रम होंगे – यात्री चाहें तो भाग ले सकते हैं।
● रात्रि का भोजन और विश्राम ।

● समय-समय पर पौधारोपण, सांस्कृतिक कार्यक्रम, रास्ते में पड़ने वाले महत्वपूर्ण स्थानों के दौरे जैसे कार्यक्रम भी होंगे।

हम आप सबको ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने का आमंत्रण देते हैं। यदि आप उस जगह के पास हैं जहां से यात्रा निकल रही है तो हमारे साथ चलने के लिए आपका स्वागत है। अगर आप दूर रहते हैं और हमारे साथ चलने में असमर्थ हैं तो आप डिजिटल माध्यम से यात्रा में भाग ले सकते हैं।
हमारी वेबसाइट www.bharatjodoyatra.in को फ़ॉलो करिए, 99 999 80 200 पर मिस्ड कॉल करिए या ट्विटर, फ़ेसबुक, यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर हमें फ़ॉलो करिए।