3 views 2 sec 0 Comment

अमित शाह की मौजूदगी में असम के पांच विद्रोही गुटों के साथ शांति समझौता

- 15 September 2022

अमित शाह की मौजूदगी में असम के पांच विद्रोही गुटों के साथ शांति समझौता

National Desk | ANN NEWS

आपको बता दें कि गुरुवार को केंद्र सरकार और 5 विद्रोही गुटों के बीच त्रिपक्षीय समझौता होने जा रहा है. इस समझौते के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और कई अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

सूत्रों ने खुलासा किया कि गृह मंत्रालय में शाम 5 बजे के बाद समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे, असम में शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से इस शांति समझौते पर केंद्र सरकार, असम सरकार और राज्य के पांच विद्रोही समूहों द्वारा हस्ताक्षर किए जाएंगे। इनमें ऑल आदिवासी नेशनल लिबरेशन आर्मी, असम के ट्राइबल कोबरा मिलिटेंट्स, बिरसा कमांडो फोर्स, संथाल टाइगर फोर्स और ट्राइबल पीपुल्स आर्मी शामिल हैं।

 

इक एतिहासिक समझौता जनवरी 2020 में भी हुआ

आपको बता दें कि बोडो संकट को समाप्त करने के लिए जनवरी 2020 में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भारत सरकार, असम सरकार और बोडो प्रतिनिधियों के बीच एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर कराए. समझौते के बाद, तीन नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनडीएफबी) गुटों के कुल 1,615 कैडरों ने 30 जनवरी, 2020 को अपने हथियार को छोड़ दिया इस अवसर पर एनडीएफबी के सदस्यों द्वारा एके 47 राइफल, लाइट मशीन गन और स्टन गन सहित 4,800 से अधिक हथियार छोड़ दिए।