30 views 2 sec 0 Comment

कोरिया दूतावास ने भारतीय स्कूलों को दिए मास्क का उपहार

- February 4, 2022

कोरिया दूतावास ने भारतीय स्कूलों को दिए मास्क का उपहार

04 फरवरी 2022, नई दिल्लीः स्कूलों को फिर से खोलने की घोषणा के साथ, कोरिया गणराज्य के दूतावास ने 26 भारतीय स्कूलों को भारतीय झंडे के साथ 13500 मास्क वितरित किये, जो स्कूल 2021 से कोरियाई भाषा कक्षाएं (पाठ्यक्रम-आधारित कक्षाएं और रुचि) संचालित कर रहे हैं। यह कदम COVID-19 के कारण लंबे अंतराल के बाद छात्रों का स्कूलों में वापस स्वागत करने के लिए और उनके आगे एक खुशहाल और स्वस्थ स्कूली जीवन की कामना करने के लिए उठाया गया था।

छात्र अपने जीवन और पढ़ाई को स्कूल में अच्छी तरह से जारी रखेंगे

भारत में कोरिया गणराज्य के राजदूत, महामहिम चांग जे-बोक ने कहा, “मुझे उम्मीद है कि भारतीय छात्र जो COVID महामारी के इस कठिन समय से गुजरे हैं, स्वस्थ रहकर इसे दूर करने में सक्षम रहेंगे। छात्र अपने जीवन और पढ़ाई को स्कूल में अच्छी तरह से जारी रखेंगे और साथ ही कोरियाई भाषा और कोरियाई संस्कृति की समझ को और गहरा कर सकेंगे |

कोरियाई भाषा शिक्षा के लिए प्रायोगिक कक्षाएं चला रहा है कोरियाई सांस्कृतिक केंद्र

कोरियाई सांस्कृतिक केंद्र भारत 2015 से भारतीय स्कूलों में कोरियाई भाषा शिक्षा के लिए प्रायोगिक कक्षाएं चला रहा है और अभी 15 स्कूल (18 कक्षाएं, 607 छात्र) अपने पाठ्यक्रम के एक भाग के रूप में कोरियाई भाषा की कक्षाएं चला रहे हैं| साथ ही 18 स्कूल (27 कक्षाएं, 929 छात्र) कोरियाई भाषा की कक्षाओं को हॉबी कक्षाओं के रूप में संचालित कर रहे हैं|

इसका मुख्य श्रेय भारत की 2020 की राष्ट्रीय शिक्षा नीति के माध्यम से भारत सरकार के कोरियाई भाषा पाठ्यक्रम की सिफारिश और कोविड 19 महामारी के बाद से कोरियाई संस्कृति की लोकप्रियता रही है| उनमें से 9 दिल्ली और उसके आस-पास, 3 चेन्नई में, 2 पंजाब में और १ स्कूल इंफाल में हैं। विशेष रूप से, 7 स्कूल इस वर्ष एक ही समय में अपने पाठ्यक्रम और हॉबी कक्षाओं के एक भाग के रूप में कोरियाई भाषा की कक्षाएं संचालित कर रहे हैं। कुल 26 स्कूलों से 1,536 छात्र कोरियाई भाषा सीख रहे हैं।