15 views 7 sec 0 Comment

Jharkhand Ropeway Disaster: तक़रीबन 20 घंटे से हवा मे लटके है 48 लोग, रेस्क्यू मिशन जारी

- April 11, 2022

Jharkhand Ropeway त्रिकुट हादसा

लगभग 20 घंटो से Jharkhand Ropeway पर फसे 48 लोगों को अब तक वहां की सरकार रेस्क्यू करने में असफल रही है. एनडीआरएफ की टीम की तैनाती के बावजूद भी अभी तक लोग उसी स्थिति में फंसे हुए हैं. फंसे हुए लोगों में बच्चे, महिलाएं, गाइड और फोटोग्राफर शामिल है. एक गलती ने पूरे सिस्टम की पोल खोल कर रख दी है. झारखंड में मौजूद सबसे ऊंचे रोपवे को जब बनाया गया तब क्या इस बात का ख्याल नहीं आया कि अगर लोग फंस गए तो उन्हें कैसे रेस्क्यू किया जाएगा.

Jharkhand Ropeway पर लोगों के फंसने की घटना कल शाम 5:00 बजे की है. राम नवमी के अवसर पर जहां काफी सारे पर्यटक पूजा करने और घूमने फिरने आए हुए थे. इसी बीच नीचे आ रहे एक ट्रॉली ऊपर जा रही ट्रॉली से टकरा गई और उस वक्त हवा में मौजूद सभी ट्रोलिया बंद हो गई. कई लोग घायल हो गए और उनमें से एक की मौत भी हो गई.

18 प्राणियों में फंसे 48 लोगों तक ड्रोन की मदद से खाना-पीना पहुंचाया जा रहा है. रेस्क्यू मैं झूठी एनडीआरएफ की टीम जब हेलीकॉप्टर लेकर ट्रॉली के पास जा रही है तो पंखे की हवा से टोलियां हिलने लगती है और लोगों की जान और भी ज्यादा खतरे में आ जाती है.

इस मामले में जिला कलेक्टर मंजूनाथ भैजंत्री ने बताया, ‘फिलहाल रोपवे बंद है(Jharkhand Ropeway), ट्राली के डिस्प्लेस होने से दुर्घटना घटी है. घायलों को अस्पताल भेज दिया गया है. ट्राली में फंसे लोगों को बचाने की कोशिश जारी है, इसके लिए एनडीआरएफ के साथ ही सेना की मदद ली जा रही है. किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें.’

 

कैसे हुआ हादसा?

रोपवे की तीन ट्रॉली के डिस्प्लेस होने और आपस में टकराने की वजह से ऊपर की ट्रॉलियां भी हिलने लगीं. इस वजह से वो भी पत्थरों में जाकर टकरा गए, जिस वजह से हादसा हुआ है. इधर घायलों को इलाज के लिए देवघर सदर अस्पताल भेज दिया गया है. बाकी लोगों को सुरक्षित निकालने का काम चल रहा है.

इस हादसे के दौरान कई लोग घायल हो गए थे, जिन्हें अस्पताल में एडमिट कराया गया. बताया जा रहा है कि हादसे का शिकार एक शख्स की मौत हो गई है. फिलहाल रोपवे की ट्रॉलियों में फंसे लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. सेना के सामने सबसे बड़ी चुनौती फंसे लोगों तक पहुंचने की है.

IPL 2022: KKR की इतिहास के ऐसे चार खिलाड़ी जिन्हें kkr खरीदा जरूर पर खेलने का मौका नहीं मिला