50 views 3 sec 0 Comment

मेंटल हॉस्पिटल में कर्मचारी का जला शव मिलने से मचा हड़कंप,परिवार ने हत्या का लगाया आरोप

- April 20, 2022

मेंटल हॉस्पिटल में कर्मचारी का जला शव मिलने से मचा हड़कंप,परिवार ने हत्या का लगाया आरोप

रिपोर्ट: सोनू अंसारी

जिला मेंटल अस्पताल में टेलर का जला शव मिलने से सनसनी फैल गई घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे परिवार के सदस्यों ने हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा काटा है तो वहीं पुलिस और आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और जनता से मामले की तफ्तीश शुरू की है पुलिस अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है फिलहाल घटना के बाद से ही मृतक के परिवार में मातम पसरा हुआ है।

महेश चंद्र जिला मानसिक अस्पताल में वार्ड ब्वाय के समकक्ष कर्मचारी थे

सीबीगंज थाना क्षेत्र के जौहरपुर के रहने बाले महेश चंद्र जिला मानसिक अस्पताल में वार्ड ब्वाय के समकक्ष कर्मचारी थे। यहां पर टेलर थे। सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक रोगियों के कपड़े सिलते थे। मंगलवार को देर शाम तक घर नहीं पहुंचने पर परिवार के लोगों ने तलाश शुरू कर दी इसी बीच उनकी बेटी पूजा ने अपने पिता के फोन पर फोन किया लेकिन रिसीव नहीं हुआ जिस दिन परिवार के लोगों की टेंशन बढ़ गई।

दायें कंधे से हाथ तक रस्सी बंधी थी

जिला चिकित्सालय में ही कर्मचारी चाचा सुनील को जानकारी दी गई तो उन ने ड्यूटी रजिस्टर देख तो पता चला कि महेश परिसर से निकले ही नहीं। उनकी तलाश शुरू हुई। कई कमरे खंगालने के बाद सुनील अन्य कर्मचारियों के साथ दूसरी ओर बने स्टोर रूम परिसर की ओर गए तो गेट बंद था। उसका ताला खुलवाकर अंदर जाकर देखा कि कमरा नंबर चार के सामने महेश का अर्धनग्न शव अवस्था में पड़ा था। दायें कंधे से हाथ तक रस्सी बंधी थी। गले पर निशान थे। दूसरे कमरे में मोटर साइकिल के पास सुसाइड नोट पड़ा था।

मौके से सुसाइड नोट बरामद

सुसाइड नोट की अगर बात की जाए तो उसमें महेश ने अपनी बेटी की बीमारी को लेकर सेट किया है उन्होंने कहा कि उनकी बेटी एक लंबे समय से बीमारी से ग्रस्त हैं उसका का पानी की वजह से वह अपनी जान दे रहे हैं फिलहाल पुलिस ने सुसाइड नोट को अपने कब्जे में ले लिया है लेकिन महेश की मौत का राज खुला अभी बाकी है हालांकि घटनास्थल पर मैथ का जिस तरीके से शव बरामद किया है वह हत्या की ओर इशारा कर रहा है एक इंसान कैसे अपने हाथ पैर मार सकता है और खुद को आग के हवाले कर सकता है इतना ही नही जिस कमरे में महेश शाव बरामद हुआ है उस कमरे का भार से ताला कैसे लग सकता है कई अनसुलझे सवाल है जो जिला मेंटल अस्पताल पर उठ रहे है