10 views 1 sec 0 Comment

लॉरेंस बिश्नोई की रिमांड आज खत्म, अब रडार पर भाई और भांजा

- June 11, 2022

लॉरेंस बिश्नोई की रिमांड आज खत्म, अब रडार पर भाई और भांजा

– पुलिस सूत्रों के मुताबिक बेहद शातिर है लॉरेंस, हर दिन करता रहा केवल गुमराह
– पुलिस नहीं करने गी रिमांड बढ़ाने की मांग, तिहाड़ जेल ही जाएगा बिश्नोई

नगर संवादताता

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल में पिछले दस दिनों से रिमांड पर चल रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का रिमांड पीरियड आज खत्म हो रहा है। पुलिस सूत्रों का कहना है अब उसकी रिमांड नहीं बढ़वाई जाएगी, जिससे स्पष्ट है कि वह अब वापस तिहाड़ जेल ही जाएगा। वहीं जब पुलिस से पूछा गया कि इन दस दिनों की पूछताछ का क्या नतीजा निकला, तो उन्होंने कहा कि लॉरेंस काफी शातिर है। उसने पुलिस को कुछ सही जानकारी देने की जगह गुमराह ज्यादा किया।

हालांकि सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के पीछे के मोटिव तो साफ हो ही गए हैं। साथ ही बिश्नोई की मानें तो हत्या कब, कैसे और कहां होगी, इसकी पूरी पटकथा उसके भाई अनमोल बिश्नोई और भांजे सचिन बिश्नोई ने ही लिखी थी। कौन से शूटर इस वारदात को अंजाम देंगे, कौन से हथियार इस्तेमाल किए जाएंगे, हथियार कहां से आएंगे और रेकी कौन करेगा, यह सब उन्होंने ही तय किया था। अब सेल की टीमें इन दोनों पर शिकंजा कसने की तैयारी में हैं।

अनमोल के देश छोड़ने की खबर महज अफवाह

बताया गया है कि इस बीच खबर आ रही थी कि अनमोल देश छोड़कर बाहर चला गया है। हालांकि पुलिस इस खबर को महज अफवाह ही मानकर चल रही है। उनका कहना है कि पुलिस को गुमराह करने के लिए यह शातिर गैंगस्टर्स ही इस तरह खबर बाजार में निकलवाते हैं, जिससे वह पुलिस के रडार पर आने से बच सकें। उसके देश में ही कहीं छिपे होने के इनपुट पुलिस के पास हैं। वहीं सचिन तो पहले ही खुद सोशल मीडिया के जरिए हत्या करने की बात कबूल चुका है। यही कारण है कि पंजाब पुलिस के अलावा स्पेशल सेल भी उसकी तलाश कर रही है।

दोनों लॉरेंस को देखकर ही अपराध की दुनिया में आए

अनमोल लॉरेंस का छोटा भाई है, जब बड़े भाई का नाम जब अपराध की दुनिया में गूंजा, तोवह उसकी ही राह पर निकल पड़ा। इसके खिलाफ भी रंगदारी समेत कई संगीन धाराओं में केस दर्ज हैं। वहीं खुद को लॉरेंस का भांजा बताने वाला सचिन लॉरेंस को गुरु और रोल मॉडल मानता है। वह उसकी तरह ही एक बड़ा गैंगस्टर बनना चाहता था। इस कारण वह भी उसके गैंग में शामिल हो गया था।