20 views 0 sec 0 Comment

समाज के ताने से बचने के लिये नवजात को फेंका था नानी ने,पुलिस ने की आरोपी महिला की पहचान

- June 16, 2022

समाज के ताने से बचने के लिये नवजात को फेंका था नानी ने,पुलिस ने की आरोपी महिला की पहचान

रिपोर्ट: सोनू अंसारी

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक कलयुगी मां का चेहरा सामने आया है जहां जन्म देते ही नवजात बच्चे को तपती धूप में एक महिला बोरे में बंद कर झड़ियो में फेंक के चली गई कई घंटे झाड़ियों में पड़े रहने के बाद उसकी रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने उसे बाहर निकाला और अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है बोरे में नवजात को फेंकने का पूरा नजारा पास में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाए जिसके आधार पर आरोपी महिला की पहचान कर ली गई है।

सीसीटीवी में देख रही यह महिला एक निर्दई नानी है

सीसीटीवी में देख रही यह महिला एक निर्दई नानी है जिसने अपने नाबालिग बेटी के नवजात बच्चे को बोरी में बंद कर झड़ियो में फेंक दिया , वो भी सिर्फ इसलिए है कि उसको सामाजिक लोकलज्जा के चलते , क्योंकि उसकी नाबालिग बेटी बिन ब्याही मां बन गई थी और उसी के चलते नवजात मासूम को बोरे में बंद कर झड़ियो में फेंक दिया पर यह सारा नजारा सीसीटीवी कैमरे में कैद होगा और उसी के आधार पर पुलिस ने नवजात बच्चे को बोरी में बंद कर फेंकने वाली नानी को तलाश कर लिया।

एक नवजात बच्चा बोरे में बंद मिला

दरअसल बरेली के इज्जत नगर थाना क्षेत्र के राहपुरा चौधरी में 11 जून की रात को एक नवजात बच्चा बोरे में बंद मिला जिसको चीटियां नोच कर खा रही थी नवजात बच्चे के रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने झाड़ियों में से बोरी में बंद बच्चे को बाहर निकाल कर निजी अस्पताल में भर्ती कराया और मामले की सूचना चाइल्ड लाइन और पुलिस को दी ,जिसके बाद चाइल्डलाइन की टीम ने नवजात बच्चे को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया और आसपास के लगे सीसीटीवी के आधार पर नवजात को फेंकने वाले की तलाश शुरू हुई तो वही एक सीसीटीवी कैमरे में एक महिला के द्वारा बोरे में रखकर नवजात बच्चे को फेंकने का पूरा नजारा सामने आया जिसे देखकर हर कोई दंग रह गया।

नवजात को फेंकने के वीडियो सामने आने के बाद महिला की तलाश शुरू

नवजात को फेंकने के वीडियो सामने आने के बाद जब उसकी तलाश शुरू की गई तो पता चला कि वही की रहने वाली एक नाबालिग लड़की का उसकी बहन के घर गयी थी जहां उसके शारीरिक संबंध बहन के देवर से हो गए , जिसके चलते वह गर्भवती हो गई और 11 तारीख को उसने घर में ही एक नवजात बच्चों को जन्म दिया समाज के डर से नाबालिक लड़की की मां ने नवजात को बोरे में बंद कर पास की झाड़ियों में फेंक दिया था ताकि किसी को पता न चले।

समाज के लोक लाज के डर से की ये हरकत

नवजात मासूम को फेकने वाली नानी ने बताया कि उसने समाज के लोक लाज के डर से बिन विहाई बेटी के मां बनने के बाद उसको झाड़ियों में फेंक दिया था ताकि किसी को पता ना चल सके इतना ही नहीं जिस युवक से उस नाबालिग के प्रेम प्रसंग थे उसी से उसकी 13 जून को चुपचाप तरीके से निकाह भी कर दिया गया वहीं इस मामले में बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष दिनेश चंद्र का कहना है कि नवजात की हालत गंभीर है और उसे इलाज के लिए निजी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया जहां उसका इलाज चल रहा है और बच्चे को फेंकने वाले के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।