6 views 5 sec 0 Comment

Gyanvapi Row: ज्ञानवापी परिसर में ‘शिवलिंग’ पूजा की इजाजत देने का मामला

- 18 July 2022

Gyanvapi Row: ज्ञानवापी परिसर में ‘शिवलिंग’ पूजा की इजाजत देने का मामला

Breaking Desk : ANN NEWS

7 शिव भक्त महिलाओं की ओर से दायर याचिका में मांग की गई है कि कोर्ट ASI को निर्देश दे कि ज्ञानवापी परिसर के अंदर 16 मई को मिले शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की जाए.ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में मिले शिवलिंग की पूजा अर्चना का अधिकार बहाल करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल हुई है.शिवलिंग के नीचे का निर्माण पता करने के लिए जीपीआर सर्वे कराया जाए. आज हिंदू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन ने याचिका चीफ जस्टिस के सामने रखी, जिस पर सुप्रीम कोर्ट 21 जुलाई को सुनवाई के लिए तैयार हो गया है.

‘शिवलिंग की पूजा का अधिकार बहाल हो’

याचिका 7 महिला शिव भक्तों की ओर से दायर हुई है, जिनमें वकील अमिता सचदेवा, लक्ष्मी देवी, सीता साहू, मंजू व्यास, रेखा पाठक,प्रियंका गोस्वामी, पारुल खेरा शामिल हैं. इस याचिका में कहा गया है कि ASI की ओर से वहां शिवलिंग की पुष्टि होने के बाद श्रद्धालुओं की पूजा अर्चना का अधिकार बहाल किया जाए. कोर्ट श्री काशी विश्वनाथ मन्दिर ट्रस्ट बोर्ड को निर्देश दे कि वो शिवलिंग को अपने अधिकार क्षेत्र में ले.

21 जुलाई को होगी सुनवाई

आज वकील विष्णु शंकर जैन ने चीफ जस्टिस एन वी रमना की अध्यक्षता वाली बेंच के सामने याचिका रखी. उनकी ओर से अपील की गई है कि सर्वे कमेटी की रिपोर्ट को चुनौती देने वाली मस्जिद कमेटी की याचिका 21 जुलाई को सुनवाई के लिए लगी है.इस पर सुप्रीम कोर्ट 21 जुलाई को सुनवाई के लिए तैयार हो गया.