18 views 4 sec 0 Comment

रोहतक में 102 वर्षीय बुजुर्ग की निकाली बारात, कागजों में मृत घोषित कर बंद की बुढ़ापा पेंशन

- 10 September 2022

रोहतक में 102 वर्षीय बुजुर्ग की निकाली बारात, कागजों में मृत घोषित कर बंद की बुढ़ापा पेंशन

Viral desk | Ann News

हरियाणा के रोहतक के गांव गंधारा निवासी 102 वर्षीय दुलीचंद के सरकारी कागजों में मृत घोषित होने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। पीड़ित बुजुर्ग खुद को जिंदा साबित करने के लिए अनेकों तरह के प्रयत्न कर रहा है। इसी बीच नवीन जयहिंद ने कई लोगों के साथ मिलकर बुजुर्ग की बारात निकाली। रथ पर सवार पीड़ित बुजुर्ग और उनके आगे बैंड बाजे के साथ नोट उड़ाते हुए लोग मानसरोवर पार्क से चलकर रेस्ट हाउस पहुंचे।

भाजपा उपाध्यक्ष मनीष ग्रोवर को ज्ञापन सौंपा

यहां उन्होंने भाजपा उपाध्यक्ष मनीष ग्रोवर को ज्ञापन सौंपा और मांग की कि बुजुर्ग की तत्काल प्रभाव से पेंशन शुरू की जाए। साथ ही जिन भी अधिकारियों और कर्मचारियों ने उनकी पेंशन काटकर मृत घोषित किया है, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। मनीष ग्रोवर ने उन्हें उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। बुजुर्ग और नवीन जयहिंद ने रोहतक में प्रेसवार्ता की थी। बुजुर्ग दुलीचंद ने कहा कि मैं अभी जिंदा हूं, मरा नहीं हूं। वहीं नवीन जयहिंद ने कहा कि हरियाणा में इतनी बड़ी उम्र के बुजुर्ग काफी कम बचे हुए हैं। इनको हरियाणा में ब्रांड एंबेसडर बनाना चाहिए।