8 views 9 sec 0 Comment

पार्षद मनोज कुमार जैन की बेटी नियति का विवाह देख जनमानस हर्षाया

- 4 February 2024
पार्षद मनोज कुमार जैन की बेटी नियति का विवाह देख जनमानस हर्षाया

पार्षद मनोज कुमार जैन की बेटी नियति का विवाह देख जनमानस हर्षाया

संस्कृति-कला-मनोरंजन का अदभुत संगम, राजसी विवाह-सा उत्सव

शादी हर युवा के लिए जिंदगी का सबसे बड़ा इवेंट होता है और इस पल को यादगार बनाने के लिए मां-बाप कोई कसर नहीं छोड़ते आसमान के तारे और धरती के सितारे जब एक जगह जमा होने लगे तो समझ ले किसी बड़ी हस्ती की शादी है। प्रसिद्ध उद्योगपति श्री महेश कुमार जैन – सरिता जैन के सुपुत्र युवा राजनीतिक एवं सामाजिक हस्ती श्री मनोज कुमार जैन दरियागंज वर्तमान में मनोनीत निगम पार्षद हैं। कर्मठ नेता के साथ-साथ वे भाजपा के स्थानीय कार्यक्रमों में तटस्थ भागीदारी निभाते हैं। जैन ही नहीं जैनेत्तर समाज के कार्यक्रमों में सक्रिय भूमिका अदा करते हैं। क्षेत्र या समाज की कोई भी समस्या हो, वे विभागीय कार्रवाई में हमेशा तत्पर रहते हैं। उनकी धर्मपत्नी श्रीमति दीपाली जैन कर्मठ समाजसेविका हैं। उनकी पुत्री आयुष्मति नियती जैन का विवाह 25 जनवरी 2024 को भारतीय और जैन संस्कृति के परंपरागत रिवाजों के साथ जयपुर के भंवर सिंह पैलेस में राजसी ठाट-बाट के साथ दिल्ली के सुप्रसिद्ध कपड़ा व्यापारी स्व. श्री सुरेश चन्द्र जैन के पौत्र और श्री निखिल जैन के पुत्र श्री प्रखर के साथ हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ।

विवाह के हर इवेंट के लिये देश के कोने -कोने से चुनिंदा कलाकारों को आमंत्रित किया गया, जिन्होंने विवाह उत्सव को खास बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। कहीं संगीत की धुन तो कहीं जादू का जबरदस्त शो के साथ लजीज व्यंजनों का लुत्फ उठाया जा रहा था तो कहीं महिलाएं पारम्परिक ढोल मजीरों के साथ नृत्य में रमीं थीं। लोक कलाकार अपने आकर्षक करतबों से सब का मन मोह रहे थे। बड़ा सुखद नजारा था साजो-सजावट मंत्र मुग्ध कर रही थी। देश-विदेश से लाये गए रंग-बिरंगे फूलों की महक, बड़े बड़े झाड़ झूमर, राजस्थानी वेश-भूषा में सजे कर्मचारी, जलती मशालें जल रहीं थीं चप्पे-चप्पे पे खड़े सैनिक सभी मेहमानों का अभिवादन कर रहे थे, बिल्कुल राजमहल सा वैभव प्रतीत हो रहा था। जल, थल, नभ हर जगह उत्सव की छाप नजर आ रही थी। पुष्प वर्षा, इत्र की महक। दिन में भोजन करने वालों के लिये अच्छा प्रबंध था। फिर रात्रि में उत्सव और परवान चढ़ा, जगह-जगह लाइट शो, कलाकार अग्नि करतब दिखा रहे थे, तो कहीं बोनफायर का आनंद और नयनाभिराम आतिशबाजी भी देखने को मिली। देश के चुनिंदा और मशहूर कलाकारों के साथ मधुर आधुनिक संगीत पर युवा वर्ग झूम रहा था। भिन्न भिन्न प्रकार के वस्त्रों में सजे-धजे अतिथियों की खातिरदारी राजसी अंदाज में हो रही थी। पूर्ण राजमहल रोशनी में जगमगा रहा था। खास बात रही की जयमाला स्टेज पर पिता बेटी का हाथ पकड़कर जब 100 फुट ऊँचाई से नीचे उतरे, तो दृश्य देखने वाला था। जन्नत जैसा बड़ा ही अद्भुत और मनोरम दृश्य था। मशहूर कोरियोग्राफर अपनी सेवाएं दे रहे थे। दिख रहा था जैसे बेटी की विदाई में पापा ने जमीन पर जन्नत उतार दी हो। हल्दी, मेहंदी आदि रस्मों पारम्परिक संगीत, गीतों, ढोल नगाणों, एवं मधुर शहनाईओं के साथ मधुर गीत ‘गोरी के हाथों में मेहंदी लगाओ, उप्टन से अंग-अंग सजाओ, हीरे वाली मोती वाली कंगना पहनो’ एवं ‘मेहंदी है लगने वाली, हाथों में गहरी लाली, काहे सखियां अब कलियां हाथों में खिलने वाली है, तेरे मन को, जीवन को नई खुशियां मिलने वाली हैं’ आदि गीत गाये गए। उपस्थित सभी मेहमानों ने खूब एन्जॉय किया कपल्स डांस कर रहे थे दूल्हा दुल्हन राजसी वस्त्रो में सभी क्रियाओं का बहुत आनंद लेते नजर आये। दोनों पक्ष के परिवार आपस में मिलजुल कर खूब हंसी मजाक, नाचना गाना हर इवेंट हर रस्म, एक-एक पल एन्जॉय कर रहे थे। संस्कारों के धनी दोनों परिवार धन्य हैं, जो संस्कृति और आधुनिकता में तालमेल बनाकर विवाह उत्सव मना रहे थे।

राजस्थान के राज्यपाल श्री कलराज मिश्र, मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री तीनों ने ही प्रधानमंत्री के किसी कार्यक्रम में व्यस्त होने के कारण अपने शुभकामना संदेश भेजें, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने बधाई सन्देश पत्र के माध्यम से नव दंपति को दीर्घ, सुखद एवं सौभाग्य पूर्ण जीवन के लिए शुभकामनाएं और आशीष प्रदान किया। जैन समाज के समाज रत्न श्री सुभाष जैन ओसवाल, राजीव जैन सीए (महामंत्री आल इंडिया स्थानक समाज), सुनील जैन (महामंत्री अ.भा. दिगंबर जैन परिषद), प्रवीन जैन (महासमिति मंत्री) समेत अनेक गणमान्य जन विवाह उत्सव में शामिल थे। एक खास बात रही कि सभी आगंतुकों को एक लिंक शेयर किया गया था, जिस पर फेस आइडेंटिटी से विवाह समारोह के उनके सारे फोटो मात्र 2-3 घंटे में ही उनके मोबाइल में उपलब्ध हो गये।

इसी क्रम में 28 जनवरी को सीबीडी ग्राउंड, कड़कड़डूमा, दिल्ली स्थित विवान बैंकेट हॉल में शानदार प्रीति भोज का आयोजन किया गया जिसमें दिल्ली प्रदेश भाजपा का ऐसा कोई मंत्री, नेता नहीं होगा जिसने अपनी उपस्थिति नहीं दर्ज कराई हो। आंगुतकों में डॉ. अनिल गोयल, प्रो. रघुवंत सिंघल, प्रवक्ता विरेंद्र बब्बर, सर्व श्री जय सिंह शर्मा, त्रिवेंद्र सिंह मारवाह (विधायक), सांसद प्रवेश वर्मा, आनंद जी (निगम), नरेश गर्ग (निगम), शशि चंदना (पार्षद), रेनू चौधरी (पार्षद), रोबिन शर्मा (शक्ति नगर), एले एमडी (डिप्टी मेयर), पुनीत कविता जैन, संदीप कपूर (पार्षद),सुनीता चौहान (पार्षद), इमप्रीत बख्शी (मंत्री), रतनदीप सिंह (सीबीआई), मांगेराम चौधरी, अशोक शर्मा गुड्डीन, शशि खेमका (पार्षद), कवंलजीत सिंह धीर, मुकेश शर्मा (दिल्ली विस), रघुवंशी सिंघल, अशोक वशिष्ठ (उपाध्यक्ष), रमेश गर्ग (पार्षद), अजय गुप्ता (मयूर विहार), दीपक गाबा, लक्ष्मी कांत शर्मा, मोहन गोयल (पार्षद), जितेंद्र सहगल, चौधरी रोहताश एडवोकेट, सुमन गुप्ता, मोनिका पंत (पार्षद), अनिल गुप्ता (प्रवक्ता), नीमा भगत (पार्षद), नीरज शर्मा (मयूर विहार), लोकेश दीक्षित (विधायक), मो. नसीम (दरियागंज), विरेंद्र सिंह (दरियागंज), विरेंद्र सचदेवा (प्रदेश अध्यक्ष), पंकज कोचर, रामअवतार (राम जन्म भूमि ट्रस्ट), मुकेश मान (पार्षद), अरुण जैन, विजेन्द्र धामा (अध्यक्ष), हर्ष मल्हौत्रा (महामंत्री), विजय गोयलजी (पूर्व केन्द्रीय मंत्री), विरेंद्र सिंह चौधरी (पूर्व कमिश्नर निगम), दयानंदजी, जितेन्द्र दड्ढा (उपाध्यक्ष), सरदार कंवलजीत सिंह (उपाध्यक्ष), संजीव सिंह (महामंत्री), नीरज शर्मा (महामंत्री), भावना जैन (महामंत्री), शौकी फरदम (मंत्री), जितेन्द्र चौधरी (मंत्री), पंकज गुप्ता (मंत्री), सुनील बिधूरी (प्रवक्ता), सुनीता सिंह (प्रवक्ता), विष्णु मित्तल (उपाध्यक्ष), हर्ष मल्हौत्रा (महामंत्री), सारिका जैन (मंत्री), विनोद सहरावत (अध्यक्ष), सनी श्रवण (दरियागंज), नीलम सहदेव (लाजपत नगर) समेत अनगनित हस्तियां शामिल थीं।