24 views 5 sec 0 Comment

श्री मणिकांत मिश्रा, सेनानायक SDRF द्वारा ली गयी ऑनलाइन मासिक बैठक, चारधाम यात्रा के दृष्टिगत महत्वपूर्ण विषयों पर किया गया विचार-विमर्श।

- May 1, 2024
श्री मणिकांत मिश्रा, सेनानायक SDRF द्वारा ली गयी ऑनलाइन मासिक बैठक, चारधाम यात्रा के दृष्टिगत महत्वपूर्ण विषयों पर किया गया विचार-विमर्श।

श्री मणिकांत मिश्रा, सेनानायक SDRF द्वारा ली गयी ऑनलाइन मासिक बैठक, चारधाम यात्रा के दृष्टिगत महत्वपूर्ण विषयों पर किया गया विचार-विमर्श।

रिपोर्ट: ऋषभ भंडारी

मंगलवार दिनाँक 30 अप्रैल 2024 को श्री मणिकांत मिश्रा, सेनानायक, SDRF द्वारा SDRF वाहिनी मुख्यालय, जॉलीग्रांट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मासिक सम्मेलन लिया गया। सम्मेलन के माध्यम से सेनानायक महोदय द्वारा समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों के आवासीय/भोजन व्यवस्था, उपकरणों की स्थिति तथा अन्य व्यक्तिगत समस्याओं के संबंध में जानकारी ली गयी साथ ही सम्बन्धित को निर्देशित किया गया कि कम से कम समय में समस्याओं का त्वरित निदान किया जाये।

सेनानायक महोदय द्वारा माह मई में आरम्भ होने वाली चारधाम यात्रा के दृष्टिगत निम्न बिंदुओं पर चर्चा की गयी व साथ ही आवश्यक दिशा-निर्देशों के अक्षरशः अनुपालन किये जाने के निर्देश दिये गए:-

➡️ चारधाम यात्रा के दृष्टिगत यात्रा मार्ग पर तैनात SDRF की समस्त टीमों को निर्देशित किया गया कि यात्रा हेतु मानसिक व शारीरिक रूप से तैयार रहें, रेस्क्यू उपकरणों की चलायमान स्थिति को निरंतर चैक करते रहें जिससे रेस्क्यू के दौरान किसी भी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न न हो। पोस्टों पर जनशक्ति बनाये रखें, अति आवश्यक होने पर ही अवकाश लिया जाए। सभी लोग ”सचेत एप” डाउनलोड कर लें जिसमें यात्रा व मौसम सम्बन्धी लेटेस्ट सूचनाएं अपडेट होती रहती है जोकि चारधाम यात्रा के समय अति उपयोगी होगी।

➡️ धामों के निकट व्यवस्थापित SDRF पोस्ट के प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि कपाट खुलने से पूर्व एक बार धामों के मार्ग, स्थिति इत्यादि का निरीक्षण कर लें।

➡️ वर्तमान में SDRF राज्य में कुल 31 स्थानों पर व्यवस्थापित है परंतु यात्रा सीजन के दौरान 09 अतिरिक्त स्थानों पर व्यवस्थापन बढ़ाया जाएगा। निर्देशित किया गया कि उक्त स्थानों पर आवासीय व भोजन संबंधी व्यवस्थाओं हेतु सम्बन्धित से समन्वय स्थापित कर व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली जाए।

➡️ राज्य में ड्रोन संचालकों से संपर्क बना कर रखा जाए जिससे आपदा या अन्य घटनाओं के दौरान न्यूनतम समय में घटना की वास्तविकता का पता लगाकर रेस्पॉन्स कार्य किया जा सके।

मासिक सम्मेलन के दौरान श्री श्याम दत्त नौटियाल, सहायक सेनानायक, निरीक्षक श्री प्रमोद रावत, श्री कवीन्द्र सजवाण, उपनिरीक्षक श्री जयपाल राणा, श्री विजय रयाल, श्रीमती पूनम शाह, श्रीमती शमां परवीन इत्यादि अधिकारी/कार्मिक उपस्थित रहे।