22 views 6 sec 0 Comment

Bareilly: दलित छात्रा की मौत पर हंगामा,परिजनों ने रोड किया जाम

- April 18, 2022

Bareilly: दलित छात्रा की मौत पर हंगामा,परिजनों ने रोड किया जाम

रिपोर्ट: सोनू अंसारी

बरेली कॉलेज में पढ़ने वाली एक छात्रा शादी से पहले ही प्रेग्नेंट हो गई उसके बाद उसके प्रेमी ने गर्भपात करा दिया पहुंच द्वारा रक्त बहने के चलते उसकी हालत बिगड़ गई और उस शहर के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई घटना के बाद गुस्साए परिजनों ने सब को ले जाकर हंगामा करा और इतना ही नहीं उन्होंने रोड जाम करने की कोशिश की दलित छात्रा की मौत पर जमकर हंगामा खड़ा हुआ लोगों का मकसद हंगामा ही करना नहीं उनका मकसद कुछ ओर रहा लेकिन बरेली पुलिस ने जो किया उसे देखकर हर इंसान चौक रहा है यह भीड़ बरेली की है जहां पर पुलिस लाठियां फटकार कर उन्हें तितर-बितर कर रही है इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है

घटना सीबीगंज इलाके के एक गांव की है

घटना सीबीगंज इलाके के एक गांव की है मृतक लड़की, बरेली कॉलेज में स्नातक की छात्रा थी. आरोप है कि पास के रहने बाले लड़के संग उसका छात्रा का प्रेम प्रसंग चल रहे थे इसी दरम्यान वह प्रेगनेंट हो गईं. इस पर लड़के ने गर्भपाथ कराने के लिए लड़की को शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान छात्रा की हालत बिगड़ती चली गई और आख़िर में मौत हो गई.नाराज परिवार के लोग ने हंगामा खड़ा कर दिया पुलिस इन्वेस्टिगेशन में ये सामने आया है कि लड़की को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सीसीटीवी फुटेज भी हैं. एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने भी शुरुआती जांच के आधार पर कहा कि गर्भपाथ की वजह से लड़की की मौत सामने आ रही है.

पुलिस की माने तो छात्रा दलित समाज से थीं

पुलिस की माने तो छात्रा दलित समाज से थीं. उसकी मौत की ख़बर पर तमाम संगठन सक्रिय हो गए और उन्होंने विरोध शुरू कर दिया हालांकि विवाद बढ़ता देख स्थानीय पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और माहौल को बिगाड़ने से रोक लिया संगठनों के लोगों का कहना है कि पुलिस इस मामले में ढीला रवैया सामने आया है पुलिस ने इस मामले पर कोई कार्रवाई नहीं की अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. और परिजनों को आश्वस्त दिया कि आरोपियों के ख़िलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.

मामले में सीबीगंज थाने में एफ आई क्या दर्ज की है

बरेली में छात्र की मौत पर चुप बखेड़ा खड़ा हुआ वह सिर्फ और सिर्फ राजनीति था इस दौरान बरेली पुलिस ने मामले में f.i.r. ही दर्ज नहीं की बल्कि आरोपी की तलाश में शुरू कर दी है लेकिन सवाल ये उठता है कि रात के अंधेरे में छात्र का अंतिम संस्कार क्यों कराया क्या वही लोग दबी जुबान से कह रहे हैं कि हाथरस की तरह यहां भी साथियों को छुपाने की पुलिस ने कोशिश की फिलहाल इस मामले में बरेली पुलिस घटना को लेकर सकरी नजर आ रही है साथ ही साथ आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार करने का दावा कर रही है लेकिन उधर छात्र की पीएम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई करने की पुलिस बात कर रही लेकिन पुलिस ने इस मामले में सीबीगंज थाने में एफ आई क्या दर्ज की है