6 views 4 sec 0 Comment

Kanwar Yatra 2022: शुरू हुई कांवड़ यात्रा, जाने कैसे है इंतजाम

- 15 July 2022

Kanwar Yatra 2022: शुरू हुई कांवड़ यात्रा, जाने कैसे है इंतजाम

Breaking Desk | Ann News

कोरोना काल में जो कुछ भी हुआ है वो किसी से छुपा नहीं है| स्कूल,कॉलेजेस के साथ – साथ लोगो के तमाम चलन पर भी पाबंधियाँ लग गयी थी। पर अब जब धीरे – धीरे सब ठीक हो रहा है, तो जैसे की हम सब जानते है लोगो के लिए और शिव भक्तो के लिए सावन और कावड़ यात्रा का क्या महत्वा है। दो साल कोरोना वायरस के चलते बंद रही कावड़ यात्रा 14 जुलाई से शुरू हो चुकी है.

इस बार कावड़ियों की संख्या बढ़ने की संभावना है, इस कारण प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम कर लिए हैं. भोले के भक्त सावन के पूरे महीने में बाबा को प्रसन्न करने के लिए हरिद्वार से गंगा जल भरकर लाते हैं और शिवरात्रि के दिन भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं.इस दौरान रंग बिरंगी कावड़े देखने को मिलती हैं, कोई डाक कावड़ लता है तो कोई लाखों रुपये खर्च कर बड़ी कावड़. श्रद्धालु सैकड़ों किलोमीटर का सफर पैदल तय कर अपने गंतव्य तक पहुंचते हैं.

योगी सरकार: सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

सावन के महीने में कांवड़ यात्रा को लेकर उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं. मेरठ और वाराणसी जोन में सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है.

राज्य में 151 कंपनी पीएसी और 11 कंपनी केंद्रीय पुलिस बल की तैनाती होगी. मेरठ वाराणसी कमिश्नरेट के लिए अतिरिक्त पुलिस बल के साथ 13 एडिशनल एसपी, 30 डिप्टी एसपी, 309 इंस्पेक्टर/सब इंस्पेक्टर, 1250 कॉन्स्टेबल/हेड कॉन्स्टेबल और 132 ट्रैफिक पुलिस कर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है.एटीएस और एंटी सैबोटॉज टीम के साथ बम निरोधक दस्ते को भी तैनात किया गया है. पूरे प्रदेश में 12356 किलोमीटर लंबे 840 कांवड़ मार्ग को चिह्नित किया गया है.जहां 4556 शिवालय हैं जहां लोग जलाभिषेक करेंगे. 314 स्थानों पर सावन के मौके पर लगने वाले मेले के लिए भी सुरक्षा चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए गए हैं.