12 views 2 sec 0 Comment

बरेली के छात्र पहुंच रहे वतन,रोमानिया में प्रवेश के लिए कर रहे इंतजार,Video भेज परिवार को बताया

- February 27, 2022

बरेली के छात्र पहुंच रहे वतन,रोमानिया में प्रवेश के लिए कर रहे इंतजार,Video भेज परिवार को बताया

रिपोर्ट-सोनू अंसारी

यूक्रेन में लगातार हो रहे धमाकों को लेकर भारतीय छात्र-छात्राओं की मुश्किल बढ़ गई इसी को देखते हुए अब भारत सरकार ने कठोर कदम उठाए हैं उन्होंने वहां फंसे कई भारतीयों को बाहर निकालने में कामयाब हुए हैं ऐसे में बरेली शहर के सिटी स्टेशन के पास के रहने वाले दो भाई बहन भी वहां से अब अपने वतन वापस लौट रहे इसकी जानकारी उन्होंने खुद सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर दी है इसको लेकर उनके परिवार और आसपास के लोगों में कहीं ना कहीं ख़ुशी दिख रही है। साथ ही साथ उनके परिवार वालों ने कहा कि बरेली के जो भी छात्र फंसे हैं उन्हें भी केंद्र सरकार जल्द से जल्द अपने मुल्क लेकर आए।

यूक्रेन और इवन में फंसे छात्रों को बाहर निकालने का प्लान बनाया

दरअसल आपको बता दें केंद्रीय विद्यालय एयरफोर्स में शिक्षक इकबाल अख्तर के बेटे मोहम्मद शीमाल खान और बेटी तस्बीहा इकबाल अपने भाई के साथ एमबीबीएस करने गए थे कि इसी दौरान वहां 2 मुल्कों के हालात अचानक खराब हो गए जिसको लेकर वहां हर मिनट 2 मिनट मिसाइल और बम के धमाकों से दहल रहे थे इसको लेकर उनके परिवार के लोगों में भी चिंता बढ़ गई तो ऐसे में अब हुकूमत ने कड़ी कोशिशों के बाद यूक्रेन और इवन में फंसे छात्रों को बाहर निकालने का प्लान बनाया।

अनुमति मिलने का इंतजार खुले आसमान और कड़ाके की ठंड में कर रहे हैं

बरेली केंद्रीय विद्यालय एयरफोर्स में शिक्षक इकबाल अख्तर के बेटे मोहम्मद शीमाल खान और बेटी तस्बीहा इकबाल सहित इवानो फ्रेंकिस्क इंस्टीट्यूट से एमबीबीएस कर रहे छात्रों को लेकर रोमानिया बार्डर की ओर सुबह रवाना हुई तीन बसें देर रात बॉर्डर पर पहुंच गईं। इसकी जानकारी दोनों बच्चों ने अपने पिता इकबाल अख्तर को दी। साथ ही वहां की वीडियो और फोटोग्राफ भेजी। वहां सैकड़ों की संख्या भारतीय छात्र बार्डर क्रास करने की अनुमति मिलने का इंतजार खुले आसमान और कड़ाके की ठंड में कर रहे हैं।

रोमानिया बार्ड पर तमाम भारतीय छात्र पहले ही पहुंच चुके थे

रोमानिया बार्ड पर तमाम भारतीय छात्र पहले ही पहुंच चुके थे जो 12 घंटे से अधिक समय से रोमानिया में प्रवेश के लिए इंतजार कर रहे हैं। इकबाल अख्तर ने बताया कि यूक्रेन के हालातों में फंसे अपने बच्चों की सुरखा को लेकर फिक्रमंद थे, अब बच्चे रोमानिया बार्डर पर पहुंच गए हैं पर वहां काफी अफरातफरी के हालात हैं रोमानिया बार्डर की ओर सुबह रवाना हुई तीन बसें देर रात बस बॉर्डर पर पहुंच गईं। इसकी जानकारी दोनों बच्चों ने अपने पिता इकबाल अख्तर को दी। साथ ही वहां की वीडियो और फोटोग्राफ भेजी।