6 views 6 sec 0 Comment

NASA के वैज्ञानिको ने चाँद से लाई मिट्टी पर उगाये पौधे

- 13 May 2022

NASA के विज्ञानिकों ने एक और कारनामा कर दिखावा है. अपोलो मिशन के दौरान चांद से लाई गई मिट्टी पर इन्होंने पौधे उगा दिए. अब वह दिन दूर नहीं जब चांद पर भी खेती हो पाएगी और लोग रह पाएंगे. चांद की मिट्टी को लूनर रेजोलिथ कहा जाता है, जो पृथ्वी पर पाई जाने वाली मिट्टी से मौलिक रूप से अलग होता है. अपोलो 11, 12 और 17 मिशनों के दौरान चांद से मिट्टी लाई गई थी, जिनमें ये पौधे लगाए गए थे.

NASA के वैज्ञानिक काफ़ी अरसे से चाँद की मिट्टी पर पौधे उगाने की कोशिश मे थे. अपोलो एस्ट्रोनॉट्स द्वारा लाई गई मिट्टी पर काफी मेहनत और मशक्कत के बाद अब वैज्ञानिकों ने पौधा उड़ा दिया है और यह बेहद खुशी की खबर है.

चांद की मिट्टी में उगे अरबिडोप्सिस के बीज

फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी के खाद्य और कृषि विज्ञान संस्थान के रॉबर्ट फेरल ने NASA की उपलब्धि पर कहा, ‘पौधे वास्तव में चंद्र के सामान पर उगे हैं. क्या आप मेरे साथ मजाक कर रहे हैं?’ फेरल और उनके सहयोगियों ने अपोलो 11 के नील आर्मस्ट्रांग और बज एल्ड्रिन और अन्य मूनवॉकर्स द्वारा लाई गई चांद की मिट्टी में अरबिडोप्सिस का बीज (Arabidopsis plants) लगाया. इसमें सारे बीज अंकुरित हो गए.

फेरल ने आगे कहा, ‘अपोलो चंद्र रेजोलिथ में उगाए गए पौधे ट्रांसक्रिप्टोम पेश करते हैं, जो चांद को लेकर किए जा रहे तमाम रिसर्च को एक नई सकारात्म दिशा दे रहे हैं. इससे साबित होता है कि पौधे चांद की मिट्टी में सफलतापूर्वक अंकुरित और विकसित हो सकते हैं.’

Cannes 2022: हिना खान के बाद अब Helly Shah भी कैंन्स फेस्टिवल मे बिखेरेगी जलवा