9 views 1 sec 0 Comment

अनिल चौधरी बोले राजधानी में कोविड मामलों को नियंत्रित करने की बजाय केजरीवाल पंजाब सरकार चलाने व्यस्त

- 29 June 2022

अनिल चौधरी बोले राजधानी में कोविड मामलों को नियंत्रित करने की बजाय केजरीवाल पंजाब सरकार चलाने व्यस्त

नई दिल्ली, 29 जून, 2022 – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि जहां दिल्ली में एक बार फिर कोविड संक्रमितों के आंकड़ों में वृद्धि हो रही है वहीं मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दिल्ली छोड़ गुजरात और हिमाचल प्रदेश के आगामी चुनावों के लिए लोगों को गुमराह करने रणनीति बना रहे है। उन्होंने कहा कि कल दिल्ली में 874 नए कोरोना के मामले सामने आए है जबकि 4 लोगों की मौते हुई है। राजधानी में संक्रमण दर 5.18 प्रतिशत हो गई जबकि सोमवार को कोविड टेस्ट सिर्फ 16886 हुए। सरकार जानबूझ कर टेस्ट कम करा रही है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि पिछले 8 वर्षों में ऐसा पहली बार नही हो रहा है कि जब दिल्लीवासी संकट में है और मुख्यमंत्री दूसरे राज्यों में चुनावी रणनीति में व्यस्त है। उन्होंने केजरीवाल दिल्ली को विश्वस्तरीय शहर बनाने की बात करके इसकी तुलना सिंगापुर, लंदन, पेरिस और न्यूयॉर्क से करते है, केजरीवाल कोविड संक्रमण से निपटने के लिए विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सेवा दिल्लीवासियां को मुहैया कराने में क्यों विफल साबित हो रहे है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल मौहल्ला क्लीनिकों में कोविड वैक्सीनेशन लगाने की घोषणा करके दिल्लीवासियों को गुमराह कर रहे जबकि उन्हें मौहल्ला क्लीनिकों में कोविड आरटीपीसीआर टेस्ट की सुविधा लागू करनी चाहिए।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और उनके मंत्री प्रतिदिन कोई न कोई घोषणा करके दिल्लीवालों को राजधानी की मुख्य समस्याओं से ध्यान भटकाने के लिए भ्रमित कर रहे है जबकि राजधानी में कोविड और डेंगू के बढ़ते मामलों पर केजरीवाल सहित किसी भी मंत्री का कोई बयान नही आया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल कोविड के लिए बनाये गए 7 अस्थायी अस्पतालों में हुए भ्रष्टाचार की एसीबी द्वारा जांच के आदेश को उपमुख्यमंत्री गैर कानूनी बताते है कि यह उनके अधिकार क्षेत्र में नही आता हैं, जबकि अस्थायी अस्पतालों की व्यवस्था में हजारों करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार दिल्ली सरकार ने किया।